सदस्य बनिये

हिन्दी राइटर्स गिल्ड का स्दस्य बनने में रुचि दिखाने के लिए धन्यवाद। हिरागि की सदस्त्या की जानकारी निम्नलिखित है -

  • हिरागि की सदस्यता वार्षिक है यानी प्रति वर्ष सदस्यता का नवीकरण अनिवार्य है। 
  • सदस्यता का कोई शुल्क नहीं है परन्तु आपकी आर्थिक सहायता का स्वागत है और इसके बारे जानकारी नीचे दान के अंतर्गत दी गयी है।
  • हिरागि में सदस्यता दो प्रकार की है।
  • पहली श्रेणी लेखकों की है और दूसरी श्रेणी उन हिन्दी साहित्य प्रेमियों की है, जो लिखते नहीं परन्तु अच्छे साहित्य में रुचि लेते हैं। हिन्दी राइटर्स गिल्ड में सभी का स्वागत है।
  • माँगे गये फोन नम्बरों में से होम फोन या मोबाइल में एक अनिवार्य है। ऑफ़िस नम्बर या फ़ैक्स नंबर अगर आप देना चाहें तो यहाँ लिख सकते हैं।
  • नीचे दिये गए फ़ॉर्म में Publications Links केवल लेखकों के लिए है। इसका उद्देश्य सदस्यता प्रदान करने से पहले आवेदक के लेखन कर्म से परिचित होने का है। अगर आपकी रचनाएँ इंटरनेट पर किसी भी प्रारूप में उपलब्ध हैं तो कृपया उनमें से अपनी प्रतिनिधि रचनाओं के लिंक यहाँ पर पेस्ट कर दें। अगर आपके पास लिंक नहीं है तो आप अपनी प्रतिनिधि रचना यहाँ पेस्ट कर दें।
  • अगर आपकी प्रकाशित पुस्तके किसी भी प्रकाशक की वेबसाईट पर देखी जा सकतीं हैं तो उनके भी लिंक भेज दें। 
  • Password - यह पासवर्ड आपका अपने एकाउंट का है।  अगर आप अपना सदस्यता खाता देखना चाहते हैं तो आपको इसकी आवश्यकता होगी, इसलिए ऐसा पासवर्ड चुनें जो आसानी से याद रह सके।

दान

  1. हिन्दी राइटर्स गिल्ड पंजीकृत  (फ़ेडरल) लाभ निरपेश संस्था है और इसका कोई सदस्यता शुल्क नहीं है। परन्तु कोई भी संस्था को जीवित रखने के लिए धन की आवश्यकता होती है - इसलिए आपके दान का स्वागत है।  #25 CDN से अधिक दिये दान की टैक्स रसीद आपको ई-मेल से भेज दी जाएगी।
  2. आप आर्थिक सहायता चेक द्वारा या ई-ट्रांसफ़र द्वारा कर सकते हैं। उपयुक्त बॉक्स को चेक करने से पॉप अप विंडों में विधि बतायी गयी है।