hindiwg@gmail.com
side-design

दिनकर साहित्य पर चर्चा
2016

side-design
side-design

दिनकर साहित्य पर चर्चा

हिंदी साहित्य के क्षेत्र में कार्यरत कैनेडा की जानी मानी बहुआयामी संस्था हिंदी राइटर्स गिल्ड की इस वर्ष की द्वितीय मासिक गोष्ठी 13 फ़रवरी 2016 को 150 सेन्ट्रल पार्क ड्राइव, चिन्कूज़ी लाइब्रेरी, ब्रैम्पटन में २ से ५ बजे तक अत्यंत हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुई। सर्वप्रथम सब सदस्यों ने आपस में एक दूसरे से गले मिलकर वसंत पंचमी की शुभ कामनाओं का आदान-प्रदान किया और बाहर का तापमान शून्य से लगभग ३० डिग्री सेल्सियस कम होने के कारण सबने गरमागरम चाय, पकोड़ों, बर्फी और ढोकले का आनंद श्रीमती सविता अग्रवाल और श्री संजीव अग्रवाल के सौजन्य से उठाया। कार्यक्रम दो भागों में संपन्न हुआ।
कार्यक्रम का संचालन श्री सुरेश पांडे ने किया जिसमें राष्ट्रकवि डॉ रामधारी सिंह दिनकर की जीवनी और उनकी रचनाओं पर चर्चा की गयी। इसके लिए सर्वप्रथम डॉ. इंदु रायज़ादा को मंच पर आमंत्रित किया गया जिन्होंने अपने वक्तव्य में दिनकर जी के साहित्यिक उपलब्धियों और उनके जीवन पर प्रकाश डाला। इसके बाद डॉ. शैलजा सक्सेना ने दिनकर जी की एक कविता दिनकर जी की ही वाणी में कंप्यूटर पर सुनवाई जिसका सभी श्रोताओं ने मंत्रमुग्ध होकर आनंद उठाया। तत्पश्चात भारत से पधारीं डॉ. उषा बंसल, श्रीमती आशा बर्मन और श्री संदीप कुमार ने दिनकर जी की एक एक कविता का पाठ किया। श्री सुरेश पांडे ने भी दिनकर जी की कुछ पंक्तियाँ प्रस्तुत कीं।
आज के कार्यक्रम के लिए पॉवर प्वाइंट प्रेज़ेंटेशन और ई-पोस्टर पूनम चन्द्रा "मनु" ने तैयार किए थे।
अंत में डॉ. शैलजा सक्सेना ने हिंदी राइटर्स गिल्ड के १९ मार्च को होने वाले होली के कार्यक्रम के विषय में जानकारी दी और इस प्रकार कार्यक्रम का समापन हुआ। इस वर्ष की द्वितीय गोष्ठी अत्यंत सफ़ल रही, जिसमें लगभग चालीस लेखक और श्रोता सम्मिलित हुए।

side-design
We'll never share your email with anyone else.