hindiwg@gmail.com
side-design

होली महोत्सव
2012

side-design
side-design

हिन्दी राइटर्स गिल्ड का होली मिलन उत्सव 2012

10 मार्च, 2012 को दोपहर के बाद ओकविल (ओंटेरियो, कैनेडा) के वैष्णोदेवी मंदिर के सभागार में हिन्दी राइटर्स गिल्ड ने होली मिलन उत्सव धूमधाम से मनाया। अपराह्न में २ बजे से आरम्भ होकर संध्या के ७ बजे तक यह कार्यक्रम चला।दो बजे से लोग जुटना शुरू हो गए और अतिथियों का स्वागत बहुत उत्साह, प्रेम और गुलाल से किया गया। ठंडाई और नाना प्रकार के पकवानों से मेज़ भरी थी। हरेक आने वाला परिवार कुछ न कुछ खाने के लिए ला रहा था। दो से तीन के बीच खाना पीना, गुलाल और होली मिलन चलता रहा और तीन बजे मंच पर बच्चों का कार्यक्रम आरम्भ हुआ और मंच का संचालन विद्याभूषण धर ने संभाला। कार्यक्रम औपचारिक न होकर पारिवारिक अधिक था – जैसा कि होली के उत्सव में होना ही चाहिए। हिन्दी राइटर्स गिल्ड का यह चौथा होली मिलन उत्सव था और परंपरा के अनुसार यह दिवस मुख्यतः बच्चों की प्रस्तुतियों के लिए निश्चित था।
बच्चों ने नृत्य, वाद्य-वादन, गीत, कविता और श्लोक-मंत्रों के उच्चारण से दर्शकों को प्रभावित किया और यह लगा कि हमारी पीढ़ी को चिंता की आवश्यकता नहीं, संस्कृति का अनुकरण करने के लिए अगली पीढ़ी इस भूमि पर रहते हुए भी तैयार हो रही है। जिन बच्चों ने मंच पर प्रस्तुति दी उन्हें प्रमाण पत्र दिए गए और होली मिलन उत्सव में आए सभी बच्चों को उपहार दिया गया।अगले चरण में व्यस्कों का लघु कार्यक्रम हुआ जिसमें, भुवनेश्वरी पांडे, प्राण किरतानी, मुकेश माखीजा, पारुल, आशा बर्मन ने गीतों से श्रोताओं को लुभाया। मानोशी चटर्जी के स्वरचित गीत का गायन किया। सुमन सरल सिन्हा ने फगवा और चैती सुनाई। आचार्य संदीप त्यागी, भगवत शरण श्रीवास्तव ’शरण’, गोपाल बघेल, सरन घई और डॉ. श्यामा सिंह, संजीव अग्रवाल ने होली संबंधित काव्य पाठ किया।

side-design
We'll never share your email with anyone else.